Nation express
ख़बरों की नयी पहचान

दिलफेक थी खूबसूरत मामी : उसके प्यार में पागल था भांजा, पुराने आशिक को उतारा मौत के घाट

0 244

CRIME DESK, NATION EXPRESS, कैमूर

Bihar Crime News: बिहार की कैमूर पुलिस को इस मर्डर केस को सुलझाने में 8 महीने का वक्त लग गया. 25 जुलाई को कैमूर जिला अंतर्गत एक गांव में हत्या की इस घटना को प्रेम-प्रसंग में सुपारी किलर्स द्वारा अंजाम दिया गया था.

मामी को दिल दे चुके भांजे को जब पता चला कि उसकी मामी को कोई और परेशान कर रहा है तो भांजे से आशिक बन चुके शख्स ने कुछ ऐसा खेल रच दिया जिससे उसे और उसकी महबूबा यानी मामी, दोनों को जेल की हवा खानी पड़ी. मामला बिहार के कैमूर से जुड़ा है जहां पुलिस ने ऑटो चालक हत्या के मामले का उद्भेदन किया है. इस केस में पुलिस तको 8 महीने के लंबे समय के बाद सफलता मिली. इस मामले में पुलिस ने आरोपी महिला सहित 6 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है.

- Advertisement -

sali ke pyar me pagal huaa jija

पुलिस ने दावा किया है कि प्रेम-प्रसंग में ही ऑटो चालक की हत्या की गई थी. पूरे मामले का एसपी ललित मोहन शर्मा ने प्रेस वार्ता करते हुए खुलासा किया. एसपी ने बताया कि कैमूर जिले के चैनपुर थाना क्षेत्र के केवा रोड में 8 माह पूर्व 25 जुलाई को एक ऑटो चालक का शव बरामद हुआ था. हत्या के बाद शव को फेंका गया गया था. शव की पहचान शिवराम, पिता हलखोरी राम, निवासी बेतिया, थाना चैनपुर जिला कैमूर के रूप में हुई थी. शनिवार को कैमूर एसपी ललित मोहन शर्मा ने प्रेस वार्ता कर जानकारी देते हुए बताया कि मानवीय एवं तकनीकी अनुसंधान के आधार पर घटना का खुलासा हो सका.

कैमूर में हुई हत्या की घटना का खुलासा करते एसपी

एसपी ने बताया कि संयुक्त अभियुक्त मंजू देवी और संतोष कुमार का आपस में अवैध प्रेम प्रसंग था. दोनों मामी और भांजा हैं. मृतक शिवराम का भी पहले से मंजू देवी के साथ अवैध प्रेम प्रसंग था. इसके बाद मंजू देवी और संतोष कुमार ने मिलकर शिवराम को अपने रास्ते से हटाने का प्लान बनाया. इसके लिए दोनों ने एक अपराधी जो कि पहले भी जेल जा चुका है को 25 हजार रुपए की सुपारी दी. अपराधी की नाम विपिन कुमार है. इसके बाद घटना के दिन विपिन कुमार ने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर टेंपो को देवर्जी खुर्द जाने के लिए रिजर्व किया था.

Crime Story: जीजा साली का जुनूनी इश्क - Sarita Magazine

यहीं मिलकर ऑटो चालक शिवराम की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई. इस मामले में फरार चल रहे सभी अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया है. पूछताछ के क्रम में सभी ने मर्डर केस में अपनी संलिप्तता स्वीकार कर ली है. एसपी ने बताया कि अपराधी लगातार अपना ठिकाना बदल रहे थे लेकिन 6 महीने बाद ही सही सभी की गिरफ्तारी हो गई. अभियुक्तों में मंजू देवी, संतोष कुमार, गोलू कुमार, शिवराज कुमार, अमित कुमार, विपिन सिंह शामिल हैं.

Report By :- AARUSHI SINGH, CRIME DESK, NATION EXPRESS, कैमूर

Leave A Reply

Your email address will not be published.

GA4|256711309