Nation express
ख़बरों की नयी पहचान

सदाबहार हैं दोस्ती की बुनियाद पर बनीं ये 10 बॉलीवुड फिल्में, देखते ही यादें हो जाएंगी ताजा

0 306

Friendship Day 2020:– आने वाली 2 अगस्त को भारत में फ्रेंडशिप डे (friend ship day) मनाया जाएगा। वैसे तो हर दिन दोस्ती का होता है लेकिन इस खास मौके पर अपने दोस्तों के साथ पुरानी बातें, शैतानियां, शरारतें और अच्छी बातें साझा करना और भी मजेदार रहता है। कोरोना (corona) की वजह से इन दिनों वैसे भी बाहर जाना खतरे से खाली नहीं तो ऐसे में आप अपने दोस्तों के साथ घर ही फ्रेंडशिप डे को एन्जॉय कर सकते हैं। इस मौके पर हम आपको हिंदी सिनेमा की कुछ पुरानी बेहतरीन फिल्मों के बारे में बता रहे हैं जिन्हें आप आपने दोस्तों के साथ घर पर बैठकर देख सकते हैं और दोस्ती के इस दिन को और भी खास बना सकते हैं।

 

दोस्ती (1964)
साल 1964 में आई दोस्ती फिल्म की आज भी चर्चा होती है। इस ब्लैक एंड व्हाइट फिल्म में रामू और मोहन की दोस्ती दिखाई गई है।। दोनों ही दिव्यांग हैं। लेकिन दोस्त मिलने के बाद अपनी काबिलियत को जानते हैं और साथ मिलकर गाने गाकर अपना गुजारा करते हैं। इस फिल्म में एक-दूसरे के लिए किए गए त्याग को बताया गया है।

- Advertisement -

आनंद (1971)
आनंद की कहानी अमिताभ बच्चन और राजेश खन्ना की दोस्ती पर है जिसमें राजेश खन्ना मरते हुए भी अमिताभ को जिंदगी जीना सिखा देते हैं। बहुत ही कम समय की दोस्ती में भी फिल्म ने हम सभी को दोस्ती और जिंदगी की अहमियत बताई थी। ये फिल्म उस दौर में सुपरहिट रही थी।

हाथी मेरे साथी (1971)
राजेश खन्ना की इस फिल्म की सबसे खास बात यह थी कि इसमें इंसान की नहीं, बल्कि जानवरों से प्यार और दोस्ती को दर्शाया गया है। चार हाथियों से राजू का प्रेम किसी इंसान से भी ज्यादा गहरा था और प्यारे हाथी भी अपनी दोस्ती बखूबी निभाते हैं। इस फिल्म को देखकर आपकी आंखों में आंसू आ जाएंगे।

शोले (1975)
दोस्ती पर बनी फिल्म शोले किसी मिसाल से कम नहीं है। हिंदी सिनेमा की सबसे शानदार फिल्मों में शामिल ये फिल्म अपने आप बहुत खास है। जय और वीरू के किरदार में अमिताभ बच्चन और धर्मेंद्र ने जो किरदार निभाया वो सदियों तक याद किया जाएगा। फ्रेंडशिप डे के मौके पर ये फिल्म देखना सबसे अच्छा रहेगा।

याराना (1981)
फिल्म याराना का गाना ‘तेरे जैसा यार कहां…’ लोगों की आंखों में आंसू ले ही आता है। फिल्म में बिशन अपने बचपन के दोस्त किशन को बड़ा सिंगर बनने में मदद करता है। और किशन भी इस एहसान के बदले अपने दोस्त को मुसीबत से बचाता है।

जंजीर (1973)
यारी है ईमान मेरा यार मेरी जिंदगी! गाने की यह लाइन उस त्याग को बयां करती है जो एक दोस्त अपनी सच्ची दोस्ती के लिए करता है। अमिताभ बच्चन और प्राण ने इस फिल्म में यादगार किरदार निभाया।

अंदाज अपना-अपना (1994)
अमर और प्रेम की दोस्ती और चुलबुलेपन के लोग आज भी दीवाने हैं। उनकी मासूम लेकिन मजेदार हरकतों ने सभी को गुदगुदाया है। इस कॉमेडी फिल्म में अमर और प्रेम अपने प्यार को पाने के लिए एक-दूसरे की मदद करते हैं।

जो जीता वही सिकंदर (1992)
दोस्ती पर आधारित आमिर खान की ये फिल्म बॉलीवुड की शानदार फिल्मों में गिनी जाती है। दोस्ती और त्याग का संदेश देती इस फिल्म में आमिर खान के अलावा दीपक तिजोरी ने भी शानदार काम किया। फ्रेंडशिप डे पर इस फिल्म को देखना अच्छा रहेगा।

Report By :-Manisha Singh (Mumbai)

 

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.

GA4|256711309