Nation express
ख़बरों की नयी पहचान

JSSC CGL परीक्षा पेपर लीक मामला: जेएसएससी ने रद्द की परीक्षा, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने सीबीआई जांच की मांग की

0 200

EDUCATION DESK, NATION EXPRESS, RANCHI

JSSC CGL 2023 परीक्षा से पहले पेपर लीक: परीक्षार्थियों के मोबाइल पर एक दिन पहले पहुंचा प्रश्नों के उत्तर, सेंटर पर छात्रों का हंगामा.. एग्जाम रद्द

JSSC–CGL परीक्षा में पेपर लीक, नए सिरे से होगा तीसरी पाली का एग्जाम

झारखंड कर्मचारी चयन आयोग की ओर से आयोजित संयुक्त स्नातक स्तरीय (सीजीएल) परीक्षा से पहले पेपर लीक का मामला सामने आया है। रविवार को परीक्षा केंद्रों पर छात्रों ने जमकर हंगामा किया। हंगामा कर रहे छात्रों ने बताया कि तीसरे परीक्षा शुरू होने से पहले ही पूछे जाने वाले सवालों के जवाब मोबाइल पर आ चुके थे। वो 70 फीसदी से अधिक मिल रहे थे। परीक्षा खत्म होने के बाद रविवार देर शाम बड़ी संख्या में परीक्षार्थी मेन रोड स्थित स्टेट लाइब्रेरी पहुंचे और हंगामा किया। कुछ देर बाद ही आंसर-की सभी के पास मिलने लगे। स्टेट लाइब्रेरी में ही परीक्षार्थियों ने पेपर में पूछे गए सवाल और वायरल आंसर-की से मिलान किया।

- Advertisement -

JSSC CGL Exam Update: JSSC CGL की तृतीय पाली की परीक्षा हुई रद्द - Sarkari Diaryजेएसएससी ने रद्द की परीक्षा

छात्रों के हंगामा को देखते हुए जेएसएससी के अध्यक्ष नीरज सिन्हा से NATION EXPRESS ने बात की। बात करने के थोड़ी देर बाद झारखंड कर्मचारी चयन आयोग ने तीसरे पेपर की परीक्षा रद्द करने का नोटिस जारी किया। जारी नोटिस में परीक्षा रद्द करने का कारण अपरिहार्य बताया है।

अब जानिए परीक्षार्थियों ने क्या बताया

स्टेट लाइब्रेरी में मौजूद परीक्षार्थियों ने बताया कि जिस तीन पेपर के अंक से मैरिट लिस्ट बनेगा, उसी के आंसर परीक्षा से पहले आउट हो गया। रविवार को परीक्षा थी, लेकिन शनिवार से ही आंसर सोशल मीडिया के जरिए छात्रों के पास पहुंचने लगा था। रविवार को परीक्षा शुरू हुई तो छात्रों के बीच चर्चा होने लगी कि मोबाइल पर पहुंचा आंसर मिल रहा है।

मैथ्स और रिजनिंग के ज्यादातर आंसर मिले

छात्रों का दावा है कि मैथ्स और रिजनिंग सेक्शन के सबसे ज्यादा सवालों के जवाब मिले हैं। छात्रों के मुताबिक, प्रश्न संख्या 70, प्रश्न संख्या 54, प्रश्न संख्या 59, प्रश्न संख्या 52, प्रश्न संख्या 59 महज उदाहरण के लिए है जो वायरल आंसर से मिलते हैं। इसके अतिरिक्त कई और सेक्शन के सवालों के जवाब परीक्षा से पहले परीक्षार्थियों के पास पहुंच चुके थे।

विपक्ष ने हेमंत सरकार को घेरा

परीक्षा से पहले आंसर जारी होने के मुद्दे को लेकर भाजपा ने हेमंत सोरेन सरकार को घेरा है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी, विधायक भानू प्रताप शाही, सांसद दीपक प्रकाश सहित कई नेताओं ने ट्वीट कर आपत्ति जताते हुए सीबीआई से जांच की मांग की है।

JSSC CGL Paper Leak: सीजीएल परीक्षा का पेपर लीक, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने की सीबीआई जांच की मांग - jssc cgl general studies exam cancelled after paper leak bjp leader babaulal marandi

जेएसएससी परीक्षा में पेपर लीक की सीबीआई जांच हो: बाबूलाल मरांडी

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने जेएससीसी की ओर से रविवार को आयोजित सीजीएल परीक्षा के कथित पेपर लीक मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है। बाबूलाल मरांडी ने कहा कि कई छात्रों ने सोशल मीडिया पर आंसर शीट जारी की हैं। राज्य सरकार द्वारा आयोजित यह परीक्षा भ्रष्टाचार के दायरे में आ गई है। इस मामले की जांच सीबीआई से कराई जानी चाहिए। झारखंड सरकार युवाओं के साथ खिलवाड़ कर रही है।

JSSC CGL: Biometric test of candidates will be done in Jharkhand CGL exam carrying these things is banned - JSSC CGL : झारखंड सीजीएल एग्जाम में परीक्षार्थियों की होगी बायोमैट्रिक जांच, ये

जेएसएससी सीजीएल परीक्षा को जानिए

झारखंड कर्मचारी चयन आयोग की ओर से संयुक्त स्नातक स्तरीय परीक्षा आठ साल बाद ली जा रही है। इन आठ सालों में चार बार आवेदन लिया गया। परीक्षा के लिए साल 2015 से ही आवेदन लिया जा रहा है। पहली बार 2015 में विज्ञापन जारी किया गया था। इसके बाद 2019 में आवेदन लिया गया। तीसरी बार साल 2021 में आवेदन लिया गया, लेकिन परीक्षा नहीं ली गई। चौथी बार साल 2023 में परीक्षा आयोजित करने के लिए आवेदन लिया गया।

Report By :- PALAK TIWARI, EDUCATION DESK, NATION EXPRESS, RANCHI

Leave A Reply

Your email address will not be published.

GA4|256711309